khel

पंत की होगी छुट्टी?

भारतीय क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी ऐसे खिलाड़ी हैं, जिनकी जगह भरना टीम प्रबंधन के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है। जिस तरह भारतीय टीम में चौथे नंबर के बल्लेबाज के लिए प्रयोग हो रहे हैं, उसी तरह धोनी की जगह भरने के लिए भी प्रयोग हो रहे हैं। ऋषभ पंत को धोनी का सबसे अच्छा विकल्प माना जा रहा था, लेकिन अभी तक के प्रदर्शन में वे उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे हैं।
टीम इंडिया के रक्षक कहे जाने वाले पूर्व कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी के टीम में ना होने की कमी टीम को खलती नजर आ रही है। धोनी के विकल्प या कहें धोनी के उत्तराधिकारी कहे जाने वाले दिल्ली के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत के खराब प्रदर्शन के बाद अब शायद टीम को धोनी की कमी महसूस हो रही होगी। पंत के दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खराब प्रदर्शन के बाद अब कई दिग्गज खिलाडिय़ों ने इस पर सवाल उठाए हैं तो कई बचाव में भी आए। तो वहीं लगे हाथ सोशल मीडिया पर भी लोगों में पंत के खिलाफ गुस्सा दिखा है।
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेली गई टी-20 सीरीज से पहले वेस्टइंडीज दौरे पर भी पंत का कोई खास प्रदर्शन नहीं रहा था। इसकी आलोचना खुद टीम के हेड कोच रवि शास्त्री कर चुके हैं। पंत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन टी-20 मैचों में महज 69 रन ही बनाए थे। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भी पंत ने तीन टी-20 मैचों में सिर्फ 23 रन ही बनाए। हालांकि, पहला मैच बारिश की वजह से रद्द हो गया था। कुल मिलाकर ऋषभ इस वक्त काफी खराब फॉर्म से गुजर रहे हैं। पंत ने पिछले 20 मैचों में सिर्फ दो बार ही अर्धशतकीय पारी खेली है। पंत इस वक्त चार नंबर पर बल्लेबाजी कर रहे हैं। पंत 19 पारियों में से केवल आठ बार दहाई का आकड़ा छू पाएं हैं, तो वहीं 11 बार पंत दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू पाए। पंत के बल्लेबाजी क्रम पर भी कई दिग्गज खिलाडिय़ों ने सवाल उठाते हुए अपनी राय रखी।
पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने भी इस पर अपनी बात रखी है। गावस्कर ने एक अंग्रेजी अखबार मिड-डे से कहा कि ऋषभ को चार नंबर की जगह पांच नंबर पर बल्लेबाजी करानी चाहिए जिससे कि वह अपना नेचुरल गेम खेल सकें। बहरहाल, पंत को बार-बार मौका देने के बावजूद उनके खराब प्रदर्शन के चलते अब टीम को कहीं न कहीं धोनी की कमी तो खल रही होगी। धोनी का विकल्प कहे जाने वाले पंत अब टीम का सहारा नहीं बनते दिख रहे हैं, बल्कि वह अब बोझ बनते नजर आ रहे हैं।
लगातार खराब फॉर्म में चल रहे पंत पर अब टीम इंडिया से बाहर होने का संकट मंडरा रहा है। टीम के कप्तान विराट कोहली पहले ही कह चूके हैं कि वे किसी भी खिलाड़ी को ज्यादा मौके नहीं देंगे। विराट साफ कर चुके है कि किसी भी खिलाड़ी को 4-5 मैच में ही मौका दिया जाएगा। तो वहीं टीम के मुख्य चयनकर्ता एम.एस.के. प्रसाद भी कह चुके हैं कि वे पंत की जगह संजू सैमसन, ईशान किशन और बाकी विकेटकीपर्स पर निगाहें रखे हुए हैं।
संजू सैमसन और ईशान किशन, इन दोनों ही खिलाडिय़ों ने आइपीएल में अच्छा प्रदर्शन किया है। ऐसे में चयनकर्ता इन दोनों खिलाडिय़ों पर भरोसा जताकर दांव चल सकते हैं। इन सब के चलते कयास लगाए जा रहे हैं कि पंत पर टीम से बाहर होने का संकट मंडरा रहा है।
धोनी भी नहीं तो फिर कौन?
फिलहाल खबरों के मुताबिक धोनी ने अभी टीम से दूरी बनाने का फैसला किया है। मीडिया की खबरों के मुताबिक धोनी नवंबर तक टीम से दूर रहेंगे। वह बांग्लादेश और विजय हजारे ट्रॉफी से भी दूर रहेंगे। तो फिर पंत की जगह कौन आ सकता है? अगले साल होने वाले टी-20 विश्व कप को देखते हुए कप्तान विराट और टीम के चयनकर्ता दूसरे खिलाडिय़ों को आजमा सकते हैं। वैसे, अभी दक्षिण अफ्रीका से टेस्ट श्रृंखला बाकी है और 15 खिलाडियों की सूची में पंत का नाम भी शामिल है। तो कुल मिलाकर अब देखना यह होगा कि दक्षिण अफ्रीका से टेस्ट सीरीज में ऋषभ पंत को मौका मिलता है या नहीं। हालांकि कयास लगाए जा रहे हैं कि प्लेइंग इलेवन में पंत की जगह रिद्धिमान साहा को जगह मिल सकती है।
– आशीष नेमा