film

प्यार और विश्वासघात

फिल्मकार महेश भट्ट और मुकेश भट्ट फिल्मों में कुछ नया करने के लिए मशहूर रहे हैं। उनकी ज्यादातर फिल्मों के प्लॉट्स चाहे विदेशी फिल्मों से प्रेरित रहे हों मगर उनकी फिल्मों के सब्जेक्ट्स ही नहीं, उनका प्रेजेंटेशन भी काफी एडवांस होता है। भट्ट बंधुओं की फिल्म मर्डर-3 भी उनके कैंप की इस परंपरा को आगे बढ़ाती है। मर्डर-3 भट्ट की उस मर्डर फिल्म का सीक्वेल है जिसने पहली बार सन् 2004 में आकर जबरदस्त धूम मचा दी थी। इसी ‘मर्डरÓ से इमरान हाशमी और मल्लिका सहरावत लाइमलाइट में आए थे। इस फिल्म ने मोटा बिजनेस करके भट्ट बंधुओं को ही नहीं, फिल्म से जुड़े लगभग सभी लोागें को मालामाल कर दिया था। फिर भी इन लोगों ने ‘मर्डरÓ का सीक्वेल ‘मर्डर-2 सात साल बाद बनाया। इसमें भी इमरान हाशमी हीरो थे। मगर हीरोइन मल्लिका की जगह जैकलीन फर्नांडिस थी। पहली ‘मर्डरÓ के निर्देशक अनुराग बसु थे। मर्डर-2 के निर्देशक की कमान मोहित सूरी को सौंपी थी। फिर भी ‘मर्डर-2 को अच्छी सफलता मिली। यह देख भट्ट ने ‘मर्डर-3 बनाने में देर नहीं की। हालांकि ये फिल्में सीक्वेल हैं पर इन तीनों फिल्मों की कहानियां अलग-अलग विदेशी फिल्मों से ‘प्रेरितÓ हैं। ‘मर्डर-3 का निर्माण मुकेश भट्ट ने फोक्स स्टार स्टूडियो के साथ मिलकर किया है । मर्डर-3 की कहानी असल में स्पेनिश थ्रिलर ‘द हिडन फेसÓ से ली गई है। और फॉक्स स्टार मर्डर-3 की प्रोडक्शन से जुड़ा है तो ‘द हिडन फेसÓ के रिमेक के ऑफिशियल राइट्स ले लिए गए हैं।
‘मर्डर-3Ó में कुछ खास बातें और हैं। पहली तो इस ‘मर्डरÓ में इमरान हाशमी नहीं हैं और उनकी जगह रणदीप हुड्डा को हीरो लिया गया है। दूसरा यह कि मर्डर-3 से भट्ट परिवार का एक और सदस्य फिल्मों में अपनी दस्तक देने जा रहा है, और  वह है विशेष भट्ट। विशेष निर्माता मुकेश भट्ट के बेटे हैं और भट्ट का बैनर विशेष फिल्म्स इन्हीं विशेष भट्ट के नाम पर है। मर्डर-3 विशेष की बतौर डायरेक्टर पहली फिल्म है। पहली दोनों ‘मर्डरÓ में एक हीरोइन थी मगर ‘मर्डर-3 में दो हीरोइनें हैं। मेन लीड में अदिति राव हैदरी हैं और सेकेंड लीड में सारा लॉरेन। फिल्म की कहानी में दिखाया है कि विक्रम एक फैशन और वाइल्डलाइफ फोटोग्राफर है। उसके बोल्ड और हॉट फोटो सुर्खियां बटोरते हैं। एक दिन होटल लाउंज में विक्रम की मुलाकात निशा से होती है। निशा एक वेटर है और जिन्दगी में आगे बढऩे के लिए संघर्ष कर रही है। वह विक्रम की स्टाइलिश लाइफ और ऐश-ओ आराम की जिन्दगी से काफी प्रभावित होती है। दोनों में जल्द ही करीबी संबंध हो जाते हैं। विक्रम उसे शहर से दूर अपने भव्य फार्म हाउस पर ले जाता है। पर उसे वहां बहुत कुछ डरावना और रहस्यमय भी लगने लगता है। उधर विक्रम अपनी पहली गर्ल फ्रेंड रोशनी की तलाश में जुटा है। विक्रम जब फोटोग्राफी में संघर्ष कर रहा था तभी रोशनी उसकी जिन्दगी में आई थी।  रोशनी की मदद से ही विक्रम का करिअर संवर पाया था। पर बाद में रोशनी को लगा कि सफलता पाने के बाद विक्रम में बदलाव आ गया है। अब वह उससे प्यार नहीं करता। लगभग उसी दौरान रोशनी गायब हो गई। फिल्म में प्रीतम का संगीत है और इसका स्क्रीन प्ले महेश भट्ट और विशेष भट्ट ने लिखा है। मर्डर-3 की शूटिंग लोकेशन शानदार हैं। साउथ अफ्रीका के कैपटाउन के साथ गोवा, मुम्बई के खूबसूरत रंग इसमें देखने को मिलेंगे। फिल्म वेलेंटाइन डे के मौके पर 15 फरवरी को रिलीज हो रही है।  फिल्म में जहां एक ओर प्रेम और विश्वास के खेल हैं तो दूसरी ओर प्यार के साथ विश्वासघात और प्यार के मर्डर के रंग भी हैं।