vyang

यहां कौन नहीं भाग रहा?

आपको अगर कोई बीमारी हो तो डॉक्टर साहब दवा के साथ कहते हैं थोड़ा भागा भी करो। मेडिकल सांइस तक भी कहती है कि भागना शरीर के लिए लाभप्रद है। आदमी जितना भागेगा, जीवन में उतना ही निरोगी एवं सुखी रहेगा।  फिर

videsh

लास्ट चांस

इस दुनिया में इंसानों ने तरक्की के नामालूम कैसे-कैसे मुकाम हासिल किए लेकिन इसी तरक्की के दौड़ में उसने अपने इर्द-गिर्द परमाणु बम और हाईड्रोजन बम जैसे मौत के सामान भी जुटा लिए। अब यही मौत के सामान पूरी दुनिया के लिए

uttrakhand01

लोकतंत्र हुआ शर्मसार!

अपने प्राकृतिक सौंदर्य के लिए विश्व विख्यात उत्तराखंड का इन दिनों सबसे विद्रुप चेहरा लोगों के सामने आया है। जिससे लोकतंत्र शर्मसार हुआ है। यहां सत्ता के लिए जिस तरह बगावत, छल-कपट और खरीद-फरोख्त का मंजर देखने को

mehbooba mufti

‘डू नॉट डिस्टर्ब मीÓ

जम्मू कश्मीर में महबूबा मुफ्ती के नेतृत्व में समझौते की सरकार बन गई है। लेकिन कहा जा रहा है कि जम्मू-कश्मीर की सियासत में पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी और भाजपा झेलम दरिया के दो ऐसे किनारे हैं, जो आपस में कभी नहीं मिलते।

up00

नेता नहीं मैनेजमेंट पर विश्वास

कांगेस और उसकी विचारधारा को पल्लवित और पुष्पित करने में उत्तर प्रदेश का बड़ा योगदान रहा है। इस प्रदेश में पहले और अब भी कांग्रेस के कदावर नेताओं की लंबी फेहरिश्त रही है। लेकिन आज स्थिति यह बन गई है की उत्तर प्रदेश

sinhasth

सिंहस्थ पर चढ़ा तप और साधना का रंग

धीरे-धीरे सिंहस्थ पर तप, ध्यान, साधना व आराधना का रंग चढऩे लगा है। देश-विदेश से आए साधु-संत अपने महामंडलेश्वर और पीठाधीश्वरों के सानिध्य में बैठकर घंटों तप साधना करने में लीन हैं। इनके कैम्प में कोई आए या कोई जाए,

rajasthan aarakshan

अब सब चाहें आरक्षण

हरियाणा के जाटों को आरक्षण मिलने और राज्य में भी भरतपुर-धौलपुर को छोड़ कर बाकी जगह जाटों को आरक्षण हासिल हो जाने का असर दूसरी जातियों खासकर ब्राह्मण-राजपूतों पर भी देखा गया। खासतौर पर राजपूतों ने इस दिशा में

siyast

राहुल की राह में रोड़ा!

अक्सर कहा जाता है कि राजनीति में कोई किसी का नहीं होता। इसके लगातार उदाहरण भी सामने आते रहते हैं। जरा-जरा सी बात पर नेता एक-दूसरे का साथ छोड़ देते हैं। नेता ऐसा अपना अस्तित्व कायम करने के लिए करते हैं।

rajneet01

निक्कर से फुलपैंट तक

परिवर्तन प्रकृति का नियम है। बदलाव होते रहने चाहिए। राजनीतिक दलों में भी और सामाजिक संगठनों में भी। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने भी 90 साल बाद अपने गणवेश में बदलाव किया है। दशकों तक संघ की पहचान रही खाकी नेकर

padosh

ब्लैकमेल करने की चाल!

विश्व में भारत के बढ़ते दबदबे को देखते हुए चीन ने अब पड़ोसी राज्यों के साथ मिलकर भारत को दबाए रखने की कोशिश शुरू कर दी है। चीन की पुरानी फितरत है पीछे से वार करने की, उसने अपना हित साधने के लिए पहले तिब्बतियों को

mp_bjp_leaders_5-_062911085232

शाह की टीम के शहंशाह!

दोबारा भाजपा अध्यक्ष बनने के बाद अमित शाह अभी तक अपनी टीम का गठन नहीं कर पाए हैं। इस कारण मध्यप्रदेश सहित कई राज्यों की कार्यकारिणी का गठन अधर में लटका हुआ है। जहां तक मध्यप्रदेश का सवाल है तो यहां प्रदेश

mandi bord

बंद हुआ लहसुन पर कमीशन का खेल

प्रदेश की कृषि उपज मंडियों में पिछले एक साल से लहसून की खरीदी बिक्री में चल रहा कमीशन का खेल खत्म हो गया है। इससे कृषि उपज मंडियों में बिचौलियों को करारा झटका लगा है। बताया जाता है कि मंडी एक्ट के किसी नियम में

0100

घर में कैद 50 फीसदी महिलाएं

देश में साक्षरता के स्तर में निरंतर सुधार और महिलाओं का पढऩे-लिखने के प्रति रुझान बढऩे बाद भी महिलाओं का घर की चार दीवारी तक ही सीमित रहना बेहद चिंतनीय है। एक मोटे अनुमान के अनुसार देश में पढ़ी-लिखी महिलाओं में से

maharastra bhujbal

काली कमाई के भुजबल

कभी उधार पैसे लेकर सब्जियां बेचने वाले छगन भुजबल ने राजनीति के सहारे काली कमाई का ऐसा पहाड़ खड़ा किया की वह कईयों की आंख में चुभने लगी। ईष्र्या और लालच उनके लिए अभिशाप बन गए। न उनकी पार्टी, न उनका

kohli_2160368g

रन चेज का डॉन!

क्रिकेट के दीवाने इस देश को नया सुपरस्टार मिल गया है, विराट कोहली के रूप में, जिसमें अकेले दम पर मैच जिताने का माद्दा है। 18 गेंदों पर 39 रनों की जरूरत हो और सामने ऑस्ट्रेलिया की टीम हो तो 10 में से 8 बार आप मैच हार

cag

खजाने पर भारी खामियां

विधानसभा में इस बजट सत्र के दौरान पेश 2013-14 की कैग रिपोर्ट में प्रदेश में खनन के खेल का खुलासा हुआ है। खनन के खेल में करीब 138.96 करोड़ की चपत सरकारी खजाने को लगी है। सरकार को यह राशि खदान मालिकों से

jangalnama0

अब वनों में बढ़ेगी घुसपैठ

देश में बाघों की लगातार कम हो रही संख्या के बाद 2012 में बाघों के संरक्षण की दिशा में कदम उठाते हुए उच्चतम न्यायालय ने व्यवस्था दी थी कि देश भर में बाघ अभयारण्यों के भीतरी इलाकों में कोई पर्यटन संबंधी गतिविधि नहीं

010

अफसरों में खींचतान जनता हो रही हलकान

मप्र की व्यवसायिक राजधानी इंदौर में कानून-व्यवस्था की निगरानी व रखवाली करने वाले अफसरों की आपसी खींचतान से यहां की कानून-व्यवस्था ताक पर चली गई है। इससे शहर में आपराधिक घटनाओं का इजाफा तो हो ही रहा है अन्य

film0

अपना रोल छोटा देखकर अपसेट हो गईं कियारा आडवाणी

खबर है कि बायोपिक में एक्ट्रेस दिशा पाटनी से खुदका रोल छोटा देखकर एक्ट्रेस कियारा आडवाणी अपसेट हो गई हैं। एमएस धोनी पर बन रही बायोपिक में कई एक्ट्रेस के नाम पर चर्चा की गई थी। रोल था धोनी की पत्नी साक्षी का। इसके

cover00

कर्जदार सरकार पर फसल बीमा का भार

एक अप्रैल से मोदी सरकार ने बाढ़, सूखा, तूफान और दूसरी प्राकृतिक आपदाओं की मार झेल रहे किसानों को सहायता देने के लिए ऐतिहासिक प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लागू कर दी है।   प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना भले ही

cg

हमला या साजिश

छत्तीसगढ़ के बहुचर्चित झीरम घाटी कांड एक बार फिर से चर्चा में है। इसकी चर्चा की वजह दो वजह है। पहली यह की इस कांड के पीछे कोई राजनीतिक साजिश बताई जा रही है और दूसरी यह की सरकार ने इस कांड की जांच सीबीआई से

cedmap01

सरकार का गोलमोल

सेडमैप मध्यप्रदेश सरकार के लिए गले में फंसी ऐसी हड्डी बन गया है, जिसे न तो निगला जा सकता है और न ही उगला जा सकता है। यानी सेडमैप के खेल में सरकार दिन पर दिन फंसती जा रही है क्योंकि अफसर सरकार से गोलमोल

bundelkhand0

‘भूखे बुंदेलखंडÓ में अनाज की लूट

सूखे की मार झेल रहे बुंदेलखंड में लोग भूख से इतने बेहाल होने लगे हैं कि अब वे अनाज भी लूटने लगे हैं। ऐसी एक नहीं करीब दर्जनभर घटनाएं सामने आईं हैं। पिछले दिनों बांदा जिले में हुई ऐसी ही एक घटना में लोगों ने सार्वजनिक

bihar-gifts_

‘अवनÓ में उबली राजनीति

बिहार की राजनीति में इन दिनों तोहफे काफी अहम हो चुके हैं। शिक्षा विभाग ने विधानसभा में विधायकों को माइक्रोवेव अवन क्या बांटे, नीतीश सरकार पर हमलों का दौर ऐसा शुरू हुआ कि मुख्यमंत्री ने विधानसभा में गिफ्ट बांटने की परंपरा

b

पीथमपुर में ही उड़ेगा मौत का धुआं

आज से करीब 32 साल पहले मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में हजारों लोगों को मौत की नींद सुलाने वाली यूनियन कार्बाइड की मिथाईल आईसोसाईनेट गैस अब प्रदेश के सबसे बड़े औद्योगिक क्षेत्र पीथमपुर में कहर बरपा सकती है।

vyang

अगले जनम मोहे ‘सामान्यÓ ना कीजो

अपने देश में सामान्य वर्ग का होना उतनी ही सामान्य बात हैं जितनी की कांग्रेस सरकारों में भ्रष्टाचार का होना। लेकिन अगर सामान्यता में योग्यता का समावेश ना हो तो फिर ऐसी अनारक्षित-असामान्यता का देश में उतना ही मूल्य रह

videsh

कब तक शांत रहेंगी लपटें!

एक लंबे समय बाद हिंसा में सुलगता सीरिया अब अमन की राह पर है। यहां जारी गृहयुद्ध थोड़ी देर के लिए ठहर गया है। शांत हुई लपटों ने शांति की उम्मीदें जगाई हैं। 26 फरवरी को यहां गृह युद्ध पर विराम लग गया है। जिससे सीरिया के

campas 0

पहले अपनी पार्टी को आजाद कराओ!

भूमिहार समुदाय के कन्हैया बार-बार रोहित वेमुला या आंबेडकर का नाम ले रहे हैं। यह अच्छी बात है पर क्या इसकी वजह वामपंथियों के खत्म होती प्रासंगिकता और दलित छात्र संगठन का मजबूत उभार है?

bihar-11_647_122715082528

‘जंगलराजÓ का दाग!

शास्त्रों में ठीक ही कहा गया है कि संगत का असर व्यक्ति या व्यवस्था पर पड़ता है। जैसी की आशंका व्यक्त की जा रही थी इन दिनों बिहार में लालू यादव के जंगलराज की संगत का असर नीतीश कुमार के सुशासन पर पड़ गया है। इसका

priyanka-gandhi-vadra-15417

कांग्रेस की पतवार प्रियंका गांधी के हाथ!

यूपी में लंबे अर्से से राजनीति में हासिए पर चल रही कांग्रेस अब 2017 में अपना सबसे अहम चेहरा सियासत में उतारने की तैयारी में लगता है जुट गई है। बीते दो दिनों तक यूपी के आगामी चुनाव के लिए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के

sinhasth r

सिंहस्थ के काम अधूरे

गवान महाकाल की नगरी उज्जैन में पवित्र क्षिप्रा नदी के तट पर लगने वाले सिंहस्थ 22 अप्रैल से शुरू होगा, लेकिन आयोजन स्थल पर पसरी अव्यवस्था और अटके विकास कार्य संकेत दे रहे हैं कि आयोजन को लेकर कोई गंभीर नहीं है।

rajsthan

कंगाली के द्वार महारानी की सरकार

2013 में सत्ता में आई वसुंधरा राजे यानी महारानी की सरकार को विरासत में दो लाख करोड़ का कर्ज मिला था और सरकार के खजाने में भी दम नहीं था। स्थिति चिंताजनक थी। ऐसे आर्थिक हालात में भी महारानी ने सरकार को शाही अंदाज

rajniti

जादू की असली परीक्षा अब!

देश में अभी तक जितने भी सर्वे आ रहे हैं उनमें कहां जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जादू अभी भी सिर चढ़कर बोल रहा है। लेकिन विपक्ष इस बात को मानने को तैयार नहीं है। इसको लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष में शीत युद्ध चल

-accident

घायल की मदद पर अब पुलिस नहीं करेगी परेशान

अब अगर आप सड़क पर घायल पड़े व्यक्ति की मदद करते हैं तो आपको न तो पुलिस परेशान करेगी, न अस्पताल और न ही  कोर्ट। क्योंकि घायलों की मदद करने वाले व्यक्ति को कानूनी सुरक्षा देने के लिए गृह विभाग ने नए एक्ट का ड्राफ्ट

vallabh bhavan

दलालों की मंडी बना पेरामेडिकल विभाग

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एक तरफ  प्रदेश को शिक्षक का एज्यूकेशन हब बनाने में लगे हुए हैं। वहीं दूसरी तरफ अधिकारी उनके सपनों पर पानी फेरने में लगे हुए हैं। मुख्यमंत्री के सपनों को जहां सबसे अधिक तार-तार किया जा रहा है

pervez-musharraf--014

मुसीबत में फंसे मुशर्रफ

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ इनदिनों मुसीबत में फंसे हुए हैं। देशद्रोह के आरोप से निजात पाने के लिए वे हाथ-पांव मार रहे हैं, लेकिन उन्हें कोई रास्ता नजर नहीं आ रहा है। इसलिए सरकार और सेना को अपने पक्ष में करने के

nagariya nikay

अब कंपनी करेगी शहरों का विकास

जिस तरह स्मार्ट सिटी के निर्माण में नगर निगम और महापौर की भूमिका छीनकर स्पेशल परपस वेकिल (एसपीवी यानी विशेष प्रयोजन साधन) को दे दिया गया है उसी तरह अब शहरों के विकास में भी इनकी भूमिका को कम किया जा

mp congress

युवाओं के सहारे सत्ता की खोज

मप्र में पिछले बारह साल से सत्ता से कासो दूर हो चुकी कांग्रेस को शायद अब दिग्विजय सिंह, कमलनाथ, श्रीनिवास तिवारी, सुरेश पचौरी, सत्यव्रत चतुर्वेदी जैसे दिग्गज नेताओं पर से भरोसा उठ गया है। दरअसल, इन नेताओं में प्रदेश

bjp000

राज्यसभा की रार

जून के अंतिम दिनों में राज्यसभा के लिए मप्र से खाली हो रही तीन सीटों के लिए दावेदार नेताओं में रार शुरू हो गई है। जहां वर्तमान सांसद अपने आपको दोहराने की जुगाड़ में लगे हुए हैं, वहीं अन्य नेता इनकी जगह जाने के लिए जोड़-तोड़

mahila jagat

नहीं चाहिये ऐसा महिला दिवस

हर बार की तरह इस बार भी 8 मार्च को महिला दिवस   हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। भले ही यह दिवस महिलाओं के लिए था लेकिन आयोजन में बड़ी भागीदारी पुरूषों की रही। मप्र की राजधानी भोपाल सहित देश भर में कार्यक्रमों की

maharatra0

विदर्भ कब तक सहेगा अन्याय

कर्ज माफी अगर किसानों को आत्महत्या से रुक जाती तो, अब तक किसी किसान की आत्महत्या की खबर नहीं आती। दरअसल, कर्ज माफी किसानों की समस्याओं का हल नहीं है और न ही किसी सरकार ने किसानों की असली परेशानी

khel01

मारिया ये तुमने क्या किया?

रूसी टेनिस स्टार मारिया शारापोवा पर प्रतिबंधित दवा मेलडोनियम लेने के कारण टेनिस से अस्थाई तौर पर बैन किया गया है। यह खबर लगते ही उनके प्रशंसकों के मुंह से एक ही शब्द निकला  मारिया ये तुमने क्या किया? मारिया

gujrat

एक ‘अनारÓ भाजपा बीमार!

अभी तक राबर्ट वाड्रा के जमीन घोटाले पर कांग्रेस को गाहे-बगाहे घेरती आ रही भाजपा एक अनार (गुजरात की मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल की बेटी अनार पटेल) के कारण इन दिनों बीमार नजर आ रही है। आलम यह है कि जब से अनार पटेल

film1

‘सरबजीतÓ को मिली गृह मंत्रालय की हरी झंडी

अभिनेत्री ऐश्वर्या राय की फिल्म सरबजीत की शूटिंग को गृह मंत्रालय की हरी झंडी मिल गई है। कई विवादों में घिरी इस फिल्म के लिए अब जाकर कुछ राहत भरी खबर मिली है।

cover000

विपक्ष नाकाम, अपनों से हलकान

मध्य प्रदेश का वर्तमान बजट सत्र संभवत: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कार्यकाल का पहला ऐसा सत्र है जिसमें लगा की प्रदेश में विपक्ष ही नहीं है। लोग समझ ही नहीं पा रहे हैं कि आखिरकार मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस को हो क्या

cg0

चिटफंड की फांस

तिल-तिल जोड़कर गरीबों ने जो पूंजी बनाई उसे दोगुना-तिगुना करने का लालच देकर चिटफंड कंपनियों ने जमा कराया और भाग निकलीं। इससे कई लोगों का सपना टूट गया, वहीं कइयों का बुढ़ापे का आधार छिन गया। न खेत बचा, न ही

bundelkhand0

अब सिस्टम से लाचार

सूखे की मार, भूखमरी के हालात और सरकारी दावों का जमीनी खोखलापन बुंदेलखंड का दर्द है। इसे कोई सुनने वाला नजर नहीं आ रहा। सरकार का मुआवजा कुछ राहत देता है, लेकिन इसमें गड़बडिय़ों का यह आलम है कि चारों ओर से

vijay malya

मस्त कर्जदार सोती सरकार

यह कैसी विडंबना है, विश्वास नहीं होता कि विजय माल्या ने देश का 9000 करोड़ रुपए हड़पा फिर विदेश भागने का एलान किया और भाग भी गया लेकिन कोई उसका कुछ नहीं बिगाड़ सका। अब वह विदेश में बैठे-बैठे भले ही कितनी भी

vyang

बिटामिन ‘आरÓ के आदी

कभी हमारे पड़ोस में रहने वाले शर्मा जी के आज कल जलवे ही जलवे हैं। उनकी किस्मत ने ऐसी करवट ली है कि उनका गरीबखाना अब दौलतखाना हो गया है। आखिर हो भी क्यों नहीं? उनका बेटा सरकारी बाबू जो बन गया है। सही कहा

1 2