khel

बिकाऊ मसालों से भरपूर गुंडे

फिल्म च्गुंडेज् बॉलीवुड में 70 और 80 के दशक में बिकाऊ मसालों से भरपूर है। फिल्म का जोरदार एक्शन ऐसी फिल्मों को देखने वालों को काफी पसंद आयेगा। लेकिन फिल्म कहानी के मोर्चे पर निराश करती है। यशराज बैनर की फिल्म

congress12

मैं किसी का कृपापात्र नहीं : अरुण यादव

राजस्थान और मध्यप्रदेश के कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष की घोषणा एक ही दिन होनी थी। किंतु मध्यप्रदेश में यह दो दिन बात हुई क्या इसके पीछे ज्योतिरादित्य सिंधिया की भूमिका थी। कहते हैं सिंधिया के कृपा पात्र होने के कारण आपको यह

untitled-1

ब्रांड मोदी बनाम ब्रांड राहुल

दिल्ली में कांग्रेस के अधिवेशन में जब राहुल गांधी की बहुप्रतीक्षित दावेदारी से कांग्रेस की शीर्ष नेता सोनिया गांधी ने इनकार कर दिया तो मीडिया जगत को यह बड़ा अप्रत्याशित फैसला लगा। बीते दिसंबर में 4 राज्यों में करारी चुनावी

up2

लश्कर के दौरे और सपा सरकार की मस्ती

आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ने मुजफ्फरनगर के दंगा पीडि़तों को बरगलाने के लिए अपने खास ‘बे्रन वाशरÓ तैनात कर दिए हैं। उधर मुलायम सिंह की पार्टी के मुख्यमंत्री अलिखेश यादव सैफई उत्सव में मजे लूट रहे थे और अब

mp11

योगीराज पर लोकायुक्त की नरमी क्यों?

स्वास्थ्य विभाग के तत्कालीन संचालक योगीराज शर्मा के खिलाफ  स्वास्थ्य विभाग ने एक-एक जांच फिर खोलनी चालू कर दी है। किन्तु लोकायुक्त ने अभी तक उनके खिलाफ कोई सख्त कदम नहीं उठाया है। योगिराज के विरुद्ध जितने

congress1

पुराना राग गाया वो भी बेसुरा

मध्यप्रदेश की विधानसभा में नई सरकार के पहले सत्र में उस दिन बड़ा अजीब सा नजारा था। नेता प्रतिपक्ष ने पद और गोपनीयता की शपथ तो ली, लेकिन उन्हें उनके ही दल से कोई विशेष सम्मान नहीं मिला। न तो किसी ने उन्हें उनकी

mp13

माखनलाल में भर्ती घोटाला, सच क्या है

मध्यप्रदेश का माखनलाल पत्रकारिता विश्वविद्यालय ऐसा है जहां एक साथ 200-250 भर्तियां निकल आती हैं और उन पर अपने-अपने वालों को ही नियुक्ति दे दी जाती है, लेकिन फिर भी न तो प्रशासन की आंखे खुलती है और न ही

a.katha1

भैया पर पड़ गया भार प्रियंका बनो खेवनहार

राहुल गांधी के निवास पर बैठे कांग्रेस के कुछ खासमखास नेताओं के चेहरे भी उस दिन आश्चर्य से भरे हुए थे। राहुल के निवास पर आना उनका रुटीन कर्तव्य है। इसे वे अपनी शान समझते हैं, लेकिन उस दिन जब अचानक प्रियंका गांधी

bjp

चुनाव से पहले भाजपा का ऑपरेशन क्लीन

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लोकसभा चुनाव से पहले सब कुछ दुरुस्त कर लेना चाहते है। विधानसभा सत्र के दौरान भी उनकी यह जल्दबाजी नजर आई। लेकिन सदन में गिने-चुने कांग्रेसी उनकी जल्दबाजी पर कटाक्ष

अमौसी नरसंहार पर विवाद

बिहार के खगडिय़ा जिले के मोरकाही थाना क्षेत्र के अमौसी भरेन गांव में 2 अक्टूबर 2009 की रात भूमि विवाद को लेकर छह बालकों सहित 16 लोगों की गोली मारकर हत्या करने वाले आरोपियों को पटना हाईकोर्ट द्वारा बरी किए जाने के फैसले ने बिहार में नए विवाद को जन्म दिया है। इन आरोपियों को फरवरी 2012 में निचली अदालत ने कड़ी सजा सुनाते हुए 10 को मृत्युदंड व चार को आजीवन कारावास दिया था। किंतु पटना हाईकोर्ट ने संदेह का लाभ देते हुए सभी को बरी

adhyatm

मानवीय चेतना ही है विशेषता

मनुष्य के पास जो कुछ भी विशेषता और महत्ता है, इससे वह स्वयं उन्नति कर जाता है और अपने समाज को ऊँचा उठा ले जाता है। उसकी अंतरंग की दिशाधारा को जिसको हम चेतना कहते हैं, अन्तरात्मा कहते हैं, विचारणा कहते हैं। वही

film-sachin-tendulkar-to-com

गुत्थी के शो में सचिन तेंडुलकर!

गुत्थी यानी कि सुनील ग्रोवर का नया कॉमेडी शो ‘मैड इन इंडियाÓ स्टार प्लस पर 16 फरवरी से शुरू होने जा रहा है। सुनील जानते हैं कि उनका सीधा मुकाबला कपिल शर्मा के शो ‘कॉमेडी नाइट्स विद कपिलÓ से हैं। लिहाजा सुनील अपने शो

khel-somdev-story

अब पेस और भूपति से फोकस हटाना होगा: सोमदेव

लिएंडर पेस और महेश भूपति के अनुभव के बगैर डेविस कप मुकाबले में चीनी ताइपै पर भारत की जीत के मद्देनजर देश के शीर्ष सिंगल्स टेनिस खिलाड़ी सोमदेव देववर्मन का मानना है कि अब इन दोनों अनुभवी खिलाडिय़ों पर से फोकस

khel-viswanathan-anand

पांचवें स्थान पर रहे विश्वनाथन

पांच बार के विश्व चैंपियन विश्वनाथन आनंद का खराब फॉर्म जारी रहा और वह ज्यूरिख चेस चैलेंज के रैपिड वर्ग में निराशाजनक पांचवें स्थान पर रहे। क्लासिकल वर्ग में वह चार अंक लेकर चौथे स्थान पर रहे थे लेकिन रैपिड वर्ग में वह कुल

khel-rafael_nadal

ऑस्ट्रेलियन ओपन फाइनल सबसे बुरा अनुभव: नडाल

वल्र्ड के टॉप रैंकिंग स्पेन के टेनिस स्टार राफेल नडाल ने वर्ष के पहले ग्रैंड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में स्विट्जरलैंड के स्टानिस्लास वावरिंका के हाथों मिली हार को अपने करियर का सबसे बुरा मैच बताया। एक स्थानीय रेडियो

khel-putin

शीत ओलंपिक जारी

रूस में शीतकालीन ओलंपिक जारी हैं। दु:खद यह है कि इनकेे  उद्घाटन समारोह में भारत का दल ध्वज के तले एकत्र नहीं था क्योंकि भारत को आफिशियल सदस्य होने का दर्जा उद्घाटन के तीन दिन बाद मिला। फिलहाल रूस आगे है।

raj-thakre

राज के आंदोलन का राज क्या?

महाराष्ट्र में राज ठाकरे ने अचानक अपना आंदोलन वापस ले लिया। वजह बताई गई कि सरकार ने आश्वासन दिया है कि वह बातचीत करेगी। राज ठाकरे गिरफ्तार होकर रिहा भी हो गए। उनके कार्यकर्ताओं ने महाराष्ट्र के कई शहरों में जीवन

vivad

अगस्ता वेस्टलैंड बनाम असीमानंद

यह एक संयोग ही है कि अगस्ता वेस्टलैंड रिश्वत कांड में कथित रूप से भारत के एक प्रतिष्ठित राजनीतिक परिवार की ओर इशारा किया गया तो अचानक कारवां नामक पत्रिका ने हरियाणा की जेल में बंद असीमानंद से साक्षात्कार के बाद

vishleshan

आर्थिक आधार पर आरक्षण क्यों न हो

आरक्षण का मुद्दा फिर सामने है इस बार यह कांग्रेस के नेता जनार्दन रेड्डी के मार्फत चर्चा में आया है। जनार्दन रेड्डी ने उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मांग की थी कि जातिगत आरक्षण बंद होना चाहिए और आर्थिक रूप से कमजोर तबके के लिए

videsh1

कोको द्वीप में क्या है चीन की मंशा ?

साम्यवादी चीन भारत की घेराबंदी कर रहा है और भारत इस तथ्य से अनजान है। श्रीलंका, पाकिस्तान जैसे देशों में अपनी नौसैनिक ताकत बढ़ाने के लिए चीन ने बड़े पैमाने पर निवेश किया है और अब वह म्यांमार के एक द्वीप में अपना

up

राम मंदिर मुद्दे को हवा दे रहे हैं मुलायम सिंह

समाजवादी पार्टी के नेता मुलायम सिंह यादव विकास के मुद्दे पर नरेंद्र मोदी की बराबरी नहीं कर सकते इसलिए अब उन्होंने राम मंदिर का मुद्दा उठाकर भाजपा को घेरने की चाल चली है। मुलायम अच्छी तरह जानते हैं कि राम मंदिर मुद्दे

swasthya

मानसिक स्वास्थ्य की अनदेखी न करें

बदलती जीवनशैली ने न सिर्फ लोगों के शारीरिक स्वास्थ्य को प्रभावित किया है, बल्कि मानसिक रोगियों की संख्या भी बढ़ती जा रही है। मानसिक रोगों में सबसे आम है याददाश्त का कमजोर पड़ जाना। आजकल तो बच्चे और युवा भी

तीसरे मोर्चे का शिगूफा

हाल ही में दिल्ली में जब 11 गैर कांग्रेसी और गैर भाजपाई राजनीतिक दलों ने संयुक्त रूप से बैठक करके संसद में जनहित से जुड़े मुद्दे उठाने का संकल्प किया तो जनता को और राजनीतिक विश्लेषकों को लगा कि एक बार फिर लगभग 365 दिनों के लिए तीसरा मोर्चा गठित हो सकता है। दरअसल तीसरा मोर्चा एक ऐसा उत्पाद है जिसकी एक्सपायरी डेट 12 माह से अधिक नहीं रहती। इसीलिए जब इन दलों के नेता दिल्ली में मिले तो केवल इतना ही कहा गया कि

rail-budget

चुनावी रेल बजट में यूपी को सौगात

यूपीए-2 का अंतिम चुनावी बजट यूपी केंद्रित था। ऐसा कहना अतिश्योक्ति नहीं है। 73 में से 11 टे्रनें उत्तरप्रदेश को और 10 ट्रेनें पूर्वोत्तर को देकर कांग्रेसनीत यूपीए सरकार ने साफ कर दिया है कि जहां-जहां कांग्रेस कमजोर है वहां-वहां ट्रेन से

sarthak-pahal

प्रदेश को मिलेंगे तीन नए मेडिकल कॉलेज

मध्यप्रदेश में शीघ्र ही तीन नए मेडिकल कॉलेज खुलने वाले हैं। प्रदेश को ये सौगात उस वक्त मिली जब हाल ही में स्वास्थ्य मंत्री गुलाम नबी आजाद के साथ बैठक के दौरान मध्यप्रदेश में मेडिकल कॉलेज खोलने का फैसला किया गया। भारत

paryavaran

बायो डायवर्सिटी एक्ट, लगेगा टैक्स?

महाभारत में एक प्रसंग है भीम पेड़ों को तहस-नहस कर रहे हैं, जलावन की लकड़ी के लिए, तभी धर्मराज आते हैं और उन्हें कहते हैं कि भीम प्रकृति से उतना ही लो जितने की आवश्यकता है। प्रकृति जीवन की पूर्ति के लिए है लालच के

poorvottar

इतनी नफरत क्यों?

पूर्वोत्तर के छात्र की दिल्ली में दिनदहाड़े हत्या ने कई सवाल खड़े किए हैं निदो तानिया नामक इस छात्र की हत्या का कारण सामने आ चुका है। उसे सिर पर राड मारी गई और सीने में घूसें मारे गए। उसके दिमाग पर तथा छाती पर सूजन पाई

vyapam

बड़ी मछलियां नहीं फंसी

मध्यप्रदेश में व्यापमं घोटाले में एसटीएफ ने बहुत तत्परता दिखाई है, लेकिन अभी भी कई बड़ी मछलियां जाल से बाहर हैं। सवाल यह भी पैदा हो रहा है कि जिन सबूतों के आधार पर कुछ लोगों को पकड़ा गया उन्हीं सबूतों के आधार पर

मंत्रियों के यहां तैनात है ‘अनुभवी स्टाफÓ

मध्यप्रदेश के मंत्रियों में से कुछ को तो सत्ता में रहने का अच्छाखासा अनुभव है और उनमें भी कुछ ऐसे हैं जो नए हैं, लेकिन उनके स्टाफ में मंत्री के यहां रहने की हर काबिलियत मौजूद है। मंत्री स्टाफ की यही काबिलियत शिवराज सिंह की जीरो टालरेंस नीति को धता बता रही है। सूचना है कि लगभग सारे मंत्रियों के पास अरसे से ऐसा स्टाफ मौजूद है जो कोई भी शासन हो मंत्री के निकट पहुंचने की जुगाड़ जमा ही लेता है। इसे यूं भी समझ सकते हैं कि मंत्री स्वयं ही अनुभवी

रिश्तेदारों के लिए मंत्रियों में ‘सौदेबाजीÓ

शिवराज कैबिनेट के दो वरिष्ठ सहयोगी। एक मुख्यमंत्री की आंखों का तारा तो दूसरा संगठन के एक वरिष्ठ पदाधिकारी का दुलारा। एक की वाणी में ‘शहद टपकताÓ है तो दूसरा ठनठोक बोलने वाला। भूमिका इसलिए कि शिव के ये दोनों ‘गणÓ अपने रिश्तेदारों को लेकर कथित तौर पर सामने आ गए। पूरा वाकया बेहद दिलचस्प और खासा चौंकाने वाला है। सबसे पहले दोनों काबीना सहयोगियों से ‘परिचयÓ जरूरी है सो पहले इन्हें ‘जानÓ लीजिए। एक हैं मध्यप्रदेश सरकार के प्रवक्ता

mahila-jagat1

महिला संतों का अखाड़ा विवाद में

अलग-अलग संप्रदायों व अखाड़ों से जुड़ी महिला संतों ने जब पिछले दिनों अपना अलग अखाड़ा बनाने की घोषणा की तो नया विवाद शुरू हो गया। कुछ लोग इसे परिवर्तन की शुरुआत मानते हैं और महिलाओं के बराबरी के हक से जोड़कर देख

yuvraj-singh_0

युवराज 14 करोड़ के

न्यूजीलैंड से ऑकलैंड टेस्ट में भले ही भारतीय टीम ताश के पत्तों की तरह बिखर गई हो, लेकिन आईपीएल में तो उनका जलवा बरकरार है। आईपीएल-7 में लगी बोलियों में पैसा बरस रहा है। कभी गौतम गंभीर को सन् 2011 में 11 करोड़ से

gujrat

अमित शाह को कौन फंसाना चाहता हैं?

जबसे सीबीआई प्रमुख रंजीत सिन्हा ने यह बयान दिया है कि इशरत जहां के फर्जी एनकाउंटर मामले की चार्जशीट में यदि अमित शाह का नाम होता तो यूपीए सरकार खुश होती, तब से यह सवाल उठाया जा रहा है कि क्या वाकई में सीबीआई

film-siddharthparineeti

हंसी तो फंसी

हंसी तो फंसी की कहानी एक दशक लंबे समय में फैली हुई है। यह कहानी है विद्रोही स्वभाव की मीता (परिणीति चोपड़ा) और शरारती निखिल (सिद्धार्थ मल्होत्रा) की। निखिल और मीता की पहली मुलाकात होती है मीता की बहन दीक्षा की

film-mallika-sherawat-wallpaper-13

अपने पति से अलग हो गईं मल्लिका

मल्लिका अपने उस पति से अलग हो गईं हैं जिसे उन्होंने स्वयंवर में चुना था। मल्लिका हनीमून पर हरियाणा गईं थीं। मल्लिका ने पिछले साल एक रियलिटी शो को होस्ट किया था। इस शो में कई सारे दूल्हों में से मल्लिका को अपने लिए

aap

दिल्ली से साफ आप

दिल्ली की सरकार अरविंद केजरीवाल की अवैध जिद की शिकार बन गई। जनलोकपाल विधेयक को दिल्ली में पारित करवाने के लिए केजरीवाल भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस का साथ चाह रहे थे जो नहीं मिला। इसीलिए उन्होंने 14

a.katha5

बेशर्मी की हद

भारत की संसद में रिवाल्वर ले जा सकते हैं, चाकू ले जा सकते हैं, मिर्च पाउडर ले जा सकते हैं और कुछ भी न मिले तो किसी का गला घोटने के लिए माइक के वायर और टाई, बेल्ट से लेकर पजामे का नाड़ा तो हैं ही। लुब्बे लुआब यह है

rahul

अब कुलियों के बीच राहुल

कांग्रेस का लोकसभा चुनावी घोषणापत्र जब आपके सामने होगा तो यह किन्हीं विशेषज्ञों द्वारा नहीं बल्कि आम आदमी के द्वारा तैयार किया हुआ होगा। राहुल गांधी ने बड़ी संख्या में लोगों को जोडऩे के लिए चुनावी घोषणापत्र पर उनकी राय

modi

चाय के प्याले में मोदी का तूफान

गुजरात में नरेंद्र मोदी ने 300 शहरों के एक हजार टी स्टालों पर जनता से सीधे संवाद किया। बड़े-बड़े टीवी स्क्रीन पर जनता मोदी को देख रही थी और मोदी चाय की चुस्कियां लेते हुए सवालों का जवाब दे रहे थे। सेटेलाइट, डीटीएच, इंटरनेट

नीतीश की पार्टी में बगावत का खतरा

बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार केंद्र की राजनीति में अपनी भूमिका तलाश रहें हैं लेकिन सच तो यह है कि उनके अपने ही राज्य बिहार में उनकी पार्टी का सत्यानाश होने लगा है। पार्टी के कई अहम नेता नाराज हैं और भारतीय जनता पार्टी का बढ़ता जनाधार नीतिश की चिंता में वृद्धि कर रहा है। दूसरी तरफ कांग्रेस और लालू, पासवान की तिकड़ी बिहार के मुस्लिम वोटों में सेंधमारी करने के लिए भरपूर प्रयास कर रही है। ऐसे हालात में बिहार की राजनीतिक स्थिति दिलचस्प हो

adhyatm

उल्लास भरी दुनिया परोपकार से बनती है

रवींद्रनाथ टैगोर ने कहा है, तुम्हारे जीवन में जैसे-जैसे दूसरों को स्थान मिलेगा, वैसे-वैसे तुम्हारा अपना व्यक्तित्व होगा। पुराने समय के खगोलशास्त्री मानते थे कि विश्व का मध्यबिंदु पृथ्वी ही है। चंद्र और सूर्य, ग्रह और तारे उसके आसपास